Home Top Ad

Rahat Indori Shayri in Hindi

Share:
Rahat Indori Shayri in Hindi
Rahat Indori 



Best Collection Of Rahat Indori Shayari in Hindi


 Gazal agar ishaaron kee kala hai to maan leejie ki Rahat Indori vo kalaakaar hain jo apane andaaj mein jhoomakar is kala ko bakhoobee anjaam dete hain. daaai. Rahat Indori ke sher har laphj ke saath mohabbat kee naee shuruaat karate hain, yahee nahin vo apanee gazalon ke jarie hastakshep bhee karate hain. vyavastha ko aaina bhee dikhaate hain. shaaron shaayaree kee is kadee mein aaj ham paathakon ke lie pesh kar rahe hain daaai. raahat indauree ke kuchh chuninda sher-

1) Rahat Indori ki Shayari


 तूफ़ानों से आँख मिलाओ, सैलाबों पर वार करो
मल्लाहों का चक्कर छोड़ो, तैर के दरिया पार करो

ऐसी सर्दी है कि सूरज भी दुहाई मांगे
जो हो परदेस में वो किससे रज़ाई मांगे
...फकीरी पे तरस आता है

2) Rahat indori Best Shayari


 अपने हाकिम की फकीरी पे तरस आता है
जो गरीबों से पसीने की कमाई मांगे

जुबां तो खोल, नजर तो मिला, जवाब तो दे
मैं कितनी बार लुटा हूँ, हिसाब तो दे

3) Rahat Indori Romantic Shayari in hindi



फूलों की दुकानें खोलो, खुशबू का व्यापार करो
इश्क़ खता है तो, ये खता एक बार नहीं, सौ बार करो

अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे,
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे,
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे,
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे।

4) Rahat indori love shayari



लू भी चलती थी तो बादे-शबा कहते थे,
पांव फैलाये अंधेरो को दिया कहते थे,
उनका अंजाम तुझे याद नही है शायद,
और भी लोग थे जो खुद को खुदा कहते थे।

5) rahat indori sad shayari



हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते।

6) shayari of rahat indori



चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये हैं,
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये हैं,​
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश,
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।

7) rahat indori shayari hindi



तेरी हर बातमोहब्बत में गँवारा करके,
दिल के बाज़ार में बैठे हैं खसारा करके,
मैं वो दरिया हूँ कि हर बूंद भंवर है जिसकी,​​
तुमने अच्छा ही किया मुझसे किनारा करके।

8) rahat indori shayari hindi



आँख में पानी रखो होंटों पे चिंगारी रखो,
ज़िंदा रहना है तो तरकीबें बहुत सारी रखो,
एक ही नदी के हैं ये दो किनारे दोस्तो,
दोस्ताना ज़िंदगी से मौत से यारी रखो।

9) dr rahat indori shayri



अजीब लोग हैं मेरी तलाश में मुझको,
वहाँ पर ढूंढ रहे हैं जहाँ नहीं हूँ मैं,
मैं आईनों से तो मायूस लौट आया था,
मगर किसी ने बताया बहुत हसीं हूँ मैं।

10) rahat indori shayari images



अजनबी ख़्वाहिशें सीने में दबा भी सकूँ,
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे कि उड़ा भी सकूँ,
फूँक डालूँगा किसी रोज़ मैं दिल की दुनिया,
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी सकूँ।

11) dr rahat indori shayari in hindi



रोज़ तारों को नुमाइश में ख़लल पड़ता है,
चाँद पागल है अँधेरे में निकल पड़ता है,
रोज़ पत्थर की हिमायत में ग़ज़ल लिखते हैं,
रोज़ शीशों से कोई काम निकल पड़ता है।

12) rahat indori shayari lyrics



उसे अब के वफ़ाओं से गुजर जाने की जल्दी थी,
मगर इस बार मुझ को अपने घर जाने की जल्दी थी,
मैं आखिर कौन सा मौसम तुम्हारे नाम कर देता,
यहाँ हर एक मौसम को गुजर जाने की जल्दी थी।

13) rahat indori shayari status



हाथ खाली हैं तेरे शहर से जाते-जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुजरी है तेरे शहर में आते जाते।

14) rahat indori shayri on love



Maine Apni Khushk Aankhon Se Lahoo Chalka Diya,
Ik Samandar Keh Raha Tha Mujhko Paani Chahiye.

15) rahat indori hindi shayari



बहुत गुरूर है दरिया को अपने होने पर,
जो मेरी प्यास से उलझे तोह धज्जियाँ उड़ जाएं.

16) 2 Line rahat indori shayari on love



आते जाते हैं कई रंग मेरे चेहरे पर,
लोग लेते हैं मज़ा ज़िक्र तुम्हारा कर के.

No comments